ईरान, हिजाब और चुनने की आजादी -1

मैं जेसुइट्स (एक कैथोलिक धार्मिक गुट) द्वारा संचालित एक लिबरल कॉलेज से अपना स्नातक के एक सिमेस्टर मे था। एक सुबह जब मैं...

बाढ़ त्रासदी | जल निकासी आयोग के गठन की आवश्यकता

गुजराती में एक कहावत है, "छतरी पलटी गयी, कागड़ी थई गई"। जिसका अर्थ होता है कि बरसात में आंधी-पानी से अगर छतरी उलट...

राष्ट्रीय हित और अंतर्राष्ट्रीय निवेश में नैतिकता का प्रश्न

0
जीवन जीने के कई तरीक़े हैं जिसमें कोई दूसरों पर समय और पैसा खर्च कर अपनी आंतरिक संतुष्टि प्राप्त करने के लिए उन्हें सलाह...

जमाअत ए इस्लामी ने PFI पर लगे प्रतिबंध को अलोकतांत्रिक बताया

0
नई दिल्ली | जमाअत इस्लामी हिंद के अध्यक्ष सैयद सआदतुल्ला हुसैनी ने पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) पर केंद्र सरकार द्वारा लगाए गए प्रतिबंध...

“भारत जोड़ो यात्रा” जनता की समस्याओं का समाधान या आलोचना का निशाना?

0
केवल भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस का भाग्य बल्कि भारत का सामाजिक ताना-बाना देश को विभाजनकारी राजनीति से बचाने के उसके प्रयासों पर निर्भर करता...

भाजपा की सांप्रदायिक राजनीति को जोरदार टक्कर देता नीतीश कुमार की समाजवादी विचारधारा

0
देश की राजनीति में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार हर दिन एक नए सियासी फैसले बदल रहे हैं जिससे केंद्र में सत्तारूढ़ एनडीए गठबंधन में बेचैनी...

राष्ट्रीय राजनीति में नीतीश : उनकी आत्ममुग्धता या आत्मविश्वास

0
राजनीतिक विश्लेषकों का मानना है कि नीतीश के दिल्ली यात्रा के दौरान नीतीश के बॉडी लेंगुएज में जो बदलाव आ रहा है। यह उनकी...

बिहार में राजनीतिक परिवर्तन और उसके मायने

बिहार में नितीश कुमार की सरकार गिर गयी है और ये लेख लिखे जाने तक अगली सरकार के गठन की रूपरेखा सामने नहीं आयी...

पाकिस्तान: एक विफल राज्य की ओर बढ़ता क़दम

मौलाना अबुल कलाम आज़ाद आज़ादी आंदोलन के एकमात्र नेता...

व्यंग । नेता में लालू तो कमाल है!…….

नेता में लालू तो कमाल है!....... अभी बात पूरी नहीं हुई कि झब्बर काका एक हाथ से कंधे पर लाठी लिए दूसरे हाथ...