अंकित शर्मा और धर्मेन्द्र मुझे अस्पताल ले गए..

अपने मित्र अंकित शर्मा और धर्मेन्द्र को फोन किया जो उनको लेकर शास्त्री पार्क अस्पताल गए और वहां से रेफर किए जाने पर एल एन जी पी अस्पताल पहुंचे जहां उनका ऑपरेशन हुआ और पैर से 4 छर्रे निकाले गए..

0
882
फेक्ट फ़ाइंडिंग के सदस्य फ़वाज़ जावेद के साथ रेहान(दिल्ली दंगा पीड़ित)

“मुझे जय श्री राम का नारा लगाते हुए गोली मारी गई और श्री राम के मानने वाले अंकित शर्मा और धर्मेन्द्र ही मुझे अस्पताल ले गए। तो आखिर यह दंगाई कौन थे?? यह रेहान नाम के शख्स का सवाल है, जिसे 25 तारीख की रात 10:30 बजे औलिया मस्जिद के पीछे नॉर्थ गोंडा के गली नंबर 3 में गोली मारी गई थी। जब एस आई ओ दिल्ली टीम ने उनसे संपर्क किया तो उन्होंने कहा कि वह घर लौट रहे थे जब दंगाइयों ने जय श्री राम के नारों के बीच उन्हें गोली मार दी।


ध्यान रहे कि 24 तारीख से ही क्षेत्र में गंभीर झड़पें हो रही थीं, लेकिन 25 तारीख की रात तक पुलिस द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गई । पुलिस दो दिन के बाद भी घटना स्थल पे नहीं आई । गोली लगने के बाद वह किसी तरह अपने घर आया, स्थिति ऐसी थी एंबुलेंस का आना नामुमकिन था। उन्होंने अपने मित्र अंकित शर्मा और धर्मेन्द्र को फोन किया जो उनको लेकर शास्त्री पार्क अस्पताल गए और वहां से रेफर किए जाने पर एल एन जी पी अस्पताल पहुंचे जहां उनका ऑपरेशन हुआ और पैर से 4 छर्रे निकाले गए।
वे कहते हैं कि यह सब उनका करा धरा है जिन्होंने नफरतें फैलाई हैं जिन्होंने ने हमारे भाई चारे के माहौल में विष घोल दिया है । यह किसी धर्म के अनुयायी नहीं है बल्कि वह हैं जिनसे राजनीति लाभ उठाया जा रहा है । और यह घरणा में अंधे हो गए हैं . हमें आशा है कि रेहान भाई जल्दी ही स्वस्थ्य हो जाएंगे और यह नफरत की राजनिति करने वाले हारें गे और सत्ता से बाहर होंगे

फेक्ट फ़ाइंडिंग टीम के सदस्य

फ़व्वाज़ जावेद, लुकमान, माज़

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here