तीन दिवसीय राष्ट्रस्तरीय छात्र सम्मेलन का आयोजन

0
1207

स्टूडेंट्स इस्लामिक ऑर्गनाइज़ेशन ऑफ़ इंडिया (SIO) “संकल्प आत्मसम्मान का – संघर्ष भविष्य निर्माण का” शीर्षक के तहत एक राष्ट्रस्तरीय सम्मेलन का आयोजन करने जा रही है। यह सम्मेलन 23, 24 व 25 फरवरी 2018 को जमाअत-ए-इस्लामी हिन्द के मुख्यालय में आयोजित की जाएगी। इस सम्मेलन का मुख्य उद्देश्य छात्रों व युवाओं का सही मार्गदर्शन तथा उनकी आकांक्षाओं को निर्माणकारी रुख़ देना है। छात्रों एवं युवाओं को समसामयिक मुद्दों एवं सामाजिक परिस्थितियों से अवगत कराते हुए उनकी भूमिका के प्रति उनको सचेत करना है। मानवीय गरिमा एवं सम्मान का जो निर्धारण ईश्वर ने मानव जाति के लिए किया है उससे कोई भी शक्ति यह स्थान छीन नहीं सकती।

हमें अपने अंदर वो आत्मविश्वास उत्पन्न करने की आवश्यकता है कि हम ईश्वर के इस संदेश को फैला सकें। ईश्वर द्वारा प्रदत्त मूल्य एवं सिद्धान्त हमारे पास मौजूद हैं जिनकी विश्व को आवश्यकता है। विश्व को मानव के जीवन यापन का बेहतरीन स्थान बनाने के लिए छात्रों एवं युवाओं को ही अपनी भूमिका का निर्वाह करना है। इस महत्वपूर्ण ज़िम्मेदारी से मुँह मोड़कर सांप्रदायिकता एवं हिंसा में सम्मिलित हो जाना, न्याय के विरुद्ध है।

हमारा मिशन यह है कि भारतीय जनमानस विशेष रूप से छात्रों एवं युवाओं के मन-मस्तिष्क में घृणा, द्वेष एवं हिंसा की जो भावना पैदा करने की कोशिशें हो रही हैं उससे उन को बचाया जाए तथा उन्हें समाज को बेहतर बनाने के लिए अहिंसात्मक संघर्ष पर आमादा किया जाए। इन्हीं छात्रों एवं युवाओं के बल पर हम ऐसे समाज का निर्माण करना चाहते हैं जो मूल्यों पर आधारित हो असमानता, भेदभाव एवं शोषण के लिए कोई जगह न रहे और प्रत्येक व्यक्ति के लिए समान अवसर उपलब्ध हों।

इस सम्मेलन के द्वारा भारत के वर्तमान राजनीतिक हालात का बेलाग विश्लेषण प्रस्तुत किया जाएगा और छात्रों व युवाओं को इन्हीं हालात में संघर्ष के लिए मार्गदर्शन किया जाएगा कि ये परिस्थितियां किस प्रकार हमें सामाजिक वातावरण को बेहतर बनाने के लिए अवसर प्रदान करती हैं। सम्मेलन एक उद्देश्य यह भी है कि समाज के स्वच्छ वातावरण में जीवन यापन करना प्रत्येक व्यक्ति का अधिकार है जो उसे ईश्वर द्वारा प्रदान किया गया है किंतु वर्तमान सामाजिक परिस्थितियों के मद्देनजर  इसी उद्देश्य प्राप्ति हेतु समाज के प्रत्येक छात्र एवं युवा को संघर्ष के लिए आमादा करना है। इस राष्ट्रस्तरीय सम्मेलन के माध्यम से छात्रों एवं युवाओं के शैक्षिक, बौद्धिक, सामाजिक, राजनीतिक एवं आर्थिक स्तर को बेहतर बनाने के लिये उनका मार्गदर्शन किया जाएगा।

इस सम्मेलन में भारत के प्रत्येक प्रान्त से लगभग दस हज़ार छात्र एवं युवा सम्मिलित होंगे।

कार्यक्रम का संक्षिप्त विवरण इस प्रकार है :

 

23 फरवरी 2018 (शुक्रवार)

*प्रदर्शनी का उदघाटन

*छात्र एवं युवा सत्र – “प्रतिरोध, आत्मसम्मान एवं युवा विपक्ष”

24 फरवरी 2018 (शनिवार)

* शिक्षा एवं न्यायतंत्र सत्र : न्यायपालिका का ट्रायल तथा शिक्षा की दयनीय स्थिति

*मीडिया सत्र – लोकतंत्र एवं जनाकंक्षाएँ : वैकल्पिक मीडिया की संभावनाएं

25 फरवरी 2018 (रविवार)

*जन सम्मेलन – संकल्प आत्मसम्मान का – संघर्ष भविष्य निर्माण का : भारतीय मुसलमानों के लिए घोषणापत्र

अतिथी के रूप में विभिन्न सामाजिक कार्यकर्ता, समुदायिक नेता, छात्र नेता, युवा नेता, एम.पी और एम.एल.ए, मंत्री और मुख्यमंत्री भी उपस्थित रहेंगे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here