जेएनयू के बहाने असमानता की खाई को क्यों बढ़ाना चाहती है सरकार?

एक बार फिर जेएनयू खबर में है। जेएनयू का छात्र आंदोलन खबर में है। छात्रों ने संसद तक लॉन्ग मार्च किया। पुलिस ने रोका...

साझा संस्कृति का विकास उत्तर भारत मे नहीं हो सका, दक्षिण मे हुआ :...

हैदराबाद: सेंटर फॉर एजुकेशनल रिसर्च एंड ट्रेनिंग (CERT) द्वारा आयोजित हो रहे दक्षिण भारत इतिहास सम्मेलन के पहले दिन विभिन्न इतिहासकारों, प्रोफेसरों और शोधकर्ताओं...

SIO करेगी दक्षिण भारत इतिहास सम्मेलन का आयोजन

नई दिल्ली। इतिहास अध्ययन का एक ऐसा क्षेत्र है, जो बार-बार शोध एवं प्रयोग के चरणों से गुज़रता रहता है। पिछली सदियों में विशाल...

राष्ट्रीय शिक्षा नीति को संवैधानिक मूल्यों पर आधारित, समावेशी और भेदभाव रहित होना चाहिए...

मुख्य अंश राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2019 को संवैधानिक मूल्यों पर आधारित, समावेशी और भेदभाव रहित होना चाहिए : एसआईओ एसआईओ के राष्ट्रीय अध्यक्ष लबीद...

राजस्थान में आयोजित की जाएगी छात्र संसद

स्टूडेंटस इस्लामिक ऑर्गेनाईजेशन ऑफ इंडिया की राजस्थान इकाई के तत्वाधान मे छात्र संसद का आयोजन किया जा रहा है। कार्यक्रम की आवश्यकता पर बल...

राष्ट्रीय शिक्षा नीति संवैधानिक, विकेंद्रीकृत एवं ग़ैर व्यापारिक होनी चाहिए

वर्तमान समय में भारतीय शिक्षा प्रणाली असमानता, गुणवत्ता व निम्न स्तर एवं लुप्त हो रहे मानवीय मूल्य जैसी समस्याओं से जूझ रही है, जिस...

भला ऐसे में सरकारी विद्यालयों की दुर्दशा की चिंता क्यों हो?

किसी भी राष्ट्र का सामाजिक आर्थिक व सांस्कृतिक विकास उस देश की शिक्षा पर निर्भर करता है। यदि देश या प्रदेश की शिक्षा नीति...

तेलंगाना में 7 दिनों में 18 छात्रों की आत्महत्या

7 दिनों में 18 छात्रों की आत्महत्या, आज न कल आपको शिक्षा के सवाल पर आना ही होगा. जी नागेंद्र बिहार या यूपी का नहीं...

आज़ाद भारत के पहले शिक्षा मंत्री: मौलाना अबुल कलाम आज़ाद

“वास्तव में शिक्षा एक ऐसे माहौल का निर्माण है जहाँ मनुष्य दोस्ती और समानता के आधार पर हम एक-दूसरे को समझ सकते हैं”...

13 पॉइंट वाला विभागवार रोस्टर और उच्च शिक्षा में आरक्षण खत्म करने की साज़िश!

आर्थिक आधार पर आरक्षण (जोकि आरक्षण के आधारभूत तर्क सामाजिक पिछड़ेपन के तर्क को धता बताता है) को सफलतापूर्वक लागू होने के बाद, समाजिक...