पुस्तक समीक्षा : बच्चों की बुद्धिमत्ता का विकास

0
277

समीक्षा – अब्दुल हई अंसरी

अनुवाद – तूबा हयात खान

किताब का नाम : बच्चों की बुद्धिमत्ता का विकास
पृष्ठ: 162
संस्करण: 2023
मूल्य: ₹ 350
प्रकाशक
व्हाइट डॉट पब्लिशर्स

बच्चों के परवरिश , शिक्षा और प्रशिक्षण के बारे में उर्दू भाषा में कई किताबें हैं। उनमें से अधिकतर शैली में एकतरफ़ा हैं, लेकिन यह पेरेंटिंग की कला पर एक अनूठी किताब है। इसका सही अंदाज़ा इसे पढ़ने के बाद होता है। पहली बार, मैंने भी इसे पलट पलट कर इधर-उधर से कुछ पढ़ना चाहा, लेकिन जब मैंने पूरी किताब पढ़ी, तो मुझे वास्तव में अपने विषय पर यह एक अनूठी पुस्तक महसूस हुई। पुस्तक मूलतः इस बात पर केंद्रित है कि एक बच्चे के भविष्य के प्रयासों और कैरियर की सफ़लता के लिए आवश्यक कौशल और क्षमताओं को विकसित करने में घर के वातावरण, माता-पिता और अभिभावकों की क्या भूमिका होनी चाहिए ।


लेखक एस अमीनुल हसन पेशे से सिविल इंजीनियर हैं। प्रसिद्ध और उत्कृष्ट वक्ता, प्रतिष्ठित प्रशिक्षक (ट्रेनर), काउंसलर और मानव विज्ञान में माहिर हैं। आधुनिक विचारों और विचारधाराओं के गहरे ज्ञान के साथ, उनकी क़ुरान पर अच्छी नज़र है और क़ुरान विज्ञान में गहरी रुचि है। अपनी बात को आधुनिक तरीके से तर्क के साथ पेश करना आपकी पहचान है। वह जमात-ए-इस्लामी हिंद के नायब अमीर हैं। तहरीक के सदस्यों की तरबियत को आपकी उत्कृष्ट सेवाओं में गिना जाता है। वह कई पुस्तकों के लेखक हैं और अब तक कई व्याख्यान दे चुके हैं।

दुनिया में आने वाला हर बच्चा अनोखा है और उसके पास अनगिनत क्षमताएं और कौशल हैं। माता-पिता का मुख्य काम अपने बच्चों की क्षमताओं को पहचानना और उन्हें अपनी बुद्धि विकसित करने के अवसर देना है। हमारे समाज की त्रासदी यह है कि अधिकांश माता-पिता यह नहीं जानते हैं कि उनके बच्चे के पास क्या कौशल और किस स्तर की बुद्धि है और उसे कैसे विकसित किया जाए। अगर उन्हें पता होगा कि बच्चों की बुद्धि और क्षमता को सही दिशा देकर बढ़ाया जा सकता है तो वे इस पर ज़रूर ध्यान देंगे। बच्चों की क्षमताओं और बुद्धि को विकसित करना एक चुनौती है। इस चुनौती को पूरा करने के लिए, माता-पिता को स्वयं अपने बच्चों के स्वभाव, उनकी क्षमताओं और उनकी बुद्धि की प्रकृति के बारे में पता होना चाहिए। उन्हें यह भी पता होना चाहिए कि बच्चों की विशिष्ट क्षमताओं को विकसित करने के लिए क्या व्यवस्था करने की आवश्यकता है। दुनिया में आने वाला हर बच्चा मानसिक क्षमता के मामले में बराबर होता है, लेकिन बच्चों की बुद्धि को अलग-अलग तरीकों से बढ़ाया जा सकता है।

प्रसिद्ध मनोवैज्ञानिक हॉवर्ड गार्डनर के अनुसार, बुद्धिमत्ता के आठ क्षेत्र हैं। इस पुस्तक में, इन क्षेत्रों को विकसित करने के लिए विभिन्न और आसान तरीकों का वर्णन किया गया है।
वे आठ बुद्धिमत्ताएं इस प्रकार हैं।

1۔ भाषाई कौशल
2۔ तार्किक और गणितीय बोध
3۔ दृश्य और भागौलिक समझ
4۔ संगीत और सामंजस्य की क्षमता
5۔ भौतिक बोध
6۔ प्रकृतिवाद
7۔ पारस्परिक संबंधों/व्यक्तिगत ज्ञान का कौशल
8۔ आत्म-ज्ञान की विशेषता

यह पुस्तक इन बुद्धिमत्ताओं को विकसित करने के अद्वितीय तरीक़े बताती है जो जीवन के सभी क्षेत्रों को कवर करती हैं। कुरान, हदीस और इस्लामी मूल्यों से अंतर्दृष्टि प्राप्त करके, विद्वान लेखक ने इस पर प्रकाश डाला है कि इस्लाम के इतिहास में पैगंबर सल्लल्लाहु अलैहि व सल्लम के साथियों और उल्लेखनीय हस्तियों के जीवन में इन बुद्धिमत्ताओं के उदाहरण कैसे पाए जाते हैं। इस बुद्धिमत्ता से जुड़े भविष्य में करियर, इस बुद्धिमत्ता के विकास के लिए इस्लामी शिक्षाएं, इस बुद्धिमत्ता की जांच और इससे संबंधित महत्वपूर्ण सलाह भी दी गई हैं जो माता-पिता और अभिभावकों को बच्चों की क्षमताओं को पहचानने और उन्हें अपनी रुचि के क्षेत्रों में बढ़ाने में मदद करेगी। इसलिए, यह एक व्यापक और व्यावहारिक पुस्तक है और सभी स्तरों पर लोगों के लिए बहुत उपयोगी है।

अपनी बहुमूल्य प्रस्तावना में विद्वान लेखक ने बच्चों की भविष्य की शिक्षा और प्रशिक्षण के संबंध में कुछ बुनियादी बातों की ओर ध्यान दिलाया है और महान लेखक और रहनुमा मौलाना सैयद जलालुद्दीन उमरी का उदाहरण दिया है। “ माता-पिता का असली काम बच्चों की क्षमताओं को पहचानना और उन्हें अपनी बुद्धि विकसित करने के अवसर देना है। माता-पिता को इस छोटे से जीवन को सार्थक बनाने के लिए अपने बच्चों को कम उम्र में ही इस दुनिया की हैसियत, दुनिया में मुसलमानों का स्थान और उनके भविष्य के बारे में बहुत सी बातें बता देनी चाहिए।”(पृष्ठ:11-12)


प्रस्तावना के बाद कंप्यूटर का उदाहरण देकर मानव मस्तिष्क को समझने और समझाने का प्रयास किया गया है। बुद्धिमत्ता क्या है? इस संबंध में किन मनोवैज्ञानिकों ने काम किया है? बच्चों की बुद्धि को कैसे बढ़ाया जा सकता है, इन बिंदुओं पर भी चर्चा की गई है।

बुद्धिमत्ता के तीन बिंदु: सीखने की क्षमता, प्रश्न करने की क्षमता, और समाधान खोजने की क्षमता।
डॉ. गार्डनर का कहना है कि बुद्धिमत्ता किसी एक चीज़ का नाम नहीं है, बल्कि यह बहुमुखीय है। माता-पिता को पता होना चाहिए कि इस प्रक्रिया में उनकी बहुत महत्वपूर्ण भूमिका है। बुद्धिमत्ता एक नींव के बिना बनाया जाने वाला कोई हवाई किला नहीं है। मस्तिष्क के अनुकूल परिवार के रूप में, माता-पिता को प्रतिभा विकास के लिए एक वातावरण प्रदान करना चाहिए जो बच्चों को सीखने और समझने में मदद करता हो । इसलिए, विद्वान लेखक ने घर के ‘समृद्ध वातावरण’ पर विस्तार से चर्चा की है। मुझे लगता है कि यह इस पुस्तक का सबसे महत्वपूर्ण अध्याय है और हर माता-पिता को इसे गंभीरता से पढ़ना चाहिए। यह अध्याय बताता है कि बच्चों के सीखने के लिए घर में एक प्रभावी माहौल कैसे बनाया जाए और माता-पिता इस संबंध में क्या भूमिका निभा सकते हैं।
लेखक लिखते हैं:
“ माता-पिता आमतौर पर समझते हैं कि उनकी मुख्य ज़िम्मेदारी बच्चों के लिए कमाना, मेहनत करना, उनकी ज़रूरतों और इच्छाओं को पूरा करना, उन्हें खिलाना, उनके लिए रहने और पहनने का इंतज़ाम करना , उन्हें अच्छे स्कूलों में भेजना और फ़ीस की एक मोटी रक़म अदा करना है। आपने अपने आस-पास देखा होगा कि यह सब करने के बावजूद कभी-कभी बच्चे काबिल नहीं बन पाते हैं, लेकिन वे बाग़ी हो जाते हैं, जो बाद में माता-पिता के सम्मान को ठेस पहुंचाने का कारण बनता है। इसलिए, बच्चों के लिए हर दिन समय निकालना और घर पर सीखने का माहौल प्रदान करना बहुत महत्वपूर्ण है।” (पृष्ठ 33)

मुझे पूरी उम्मीद है कि इस पुस्तक से लाभान्वित होने वाले माता-पिता अपने जीवन में एक सुखद बदलाव महसूस करेंगे और परिणामस्वरूप उनके बच्चों का भविष्य बहुत उज्ज्वल साबित होगा।
इंशाअल्लाह!

श्री इरफ़ान वहीद की कलाकृति ने इसे और अधिक आकर्षक बना दिया है। किताब की कीमत 350 रुपये है। विद्वान लेखक ने हर बौद्धिक स्तर के लिए कुछ उत्कृष्ट व्यक्तित्वों के विवरण के साथ उनकी पुस्तकों के कुछ अंश भी बिना किसी संदर्भ के प्रस्तुत किए हैं। इसका उल्लेख करना अधिक उपयुक्त होगा : पूरी किताब में क़ुरआन की आयतें मूल (मतन) और तर्जुमे के साथ देने का विशेष ध्यान रखा गया है। मुझे लगता है कि क़ुरान की मूल आयतों (मतन) के लिए उस लिपि का उपयोग किया जाना चाहिए जिससे उपमहाद्वीप के लोग परिचित हैं या जो आमतौर पर उपयोग किया जाता है। कुल मिलाकर, यह एक व्यापक और व्यावहारिक पुस्तक है। खासकर परिवार के बुजुर्ग, सलाहकार और पहली बार माता-पिता बनने का सौभाग्य पाने वाले लोगों के लिए। उम्मीद है कि इसका भरपूर उपयोग किया जाएगा।

पुस्तक प्राप्त करने के लिए संपर्क करें
8447622919
wwww.whitedotpublishers.com

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here